Coming Up Tue 5:00 PM  AEST
Coming Up Live in 
Live
Hindi radio
SBS हिन्दी

ऑस्ट्रेलिया में पालतू जानवरों को गोद लेना और उनका पालन-पोषण करना

Adopting pets can be a rewarding experience Source: Getty Images/eclipse images

एक आश्रय से किसी जानवर को गोद लेने या पालने से न केवल आपको उनके साथ का आनंद मिलता है, बल्कि आप जानवरों को उनके जीवन में दूसरा मौका भी दे रहे हैं।

ऑस्ट्रेलिया में पालतू जानवरों की दर दुनिया में सबसे अधिक है, जिसमें लगभग 61% परिवारों के पास पालतू जानवर हैं। फिर भी, हजारों पालतू जानवर आश्रय में जाते हैं या हर साल बचाए जाते हैं।


प्रमुख बिंदु

  • हर साल सैकड़ों हजारों जानवर पशु आश्रयों में आते हैं
  • गोद लेने से पहले जानवरों को चिकित्सकीय और व्यवहारिक रूप से मूल्यांकन, टीकाकरण, माइक्रोचिप और डिसेक्स किया जाता है
  • पालक देखभाल यानि फॉस्टर केयर उन लोगों के लिए एक विकल्प है जो लंबे समय तक पालतू जानवर के लिए प्रतिबद्ध नहीं हो सकते हैं 

 

रॉयल सोसाइटी फॉर द प्रीवेंशन ऑफ क्रीएलिटी टू एनीमलस्, न्यू साउथ वेल्स (Royal Society for the Prevention of Cruelty to Animals {RSPCA} NSW) से कीरन वॉटसन के अनुसार हर साल लगभग 30,000 जानवर उनके शेल्टर में आते हैं, जिनमें सबसे अधिक संख्या में बिल्लियाँ(15000 ) और कुत्तों की (10,000) होती है। अन्य जानवरों में घोड़े, सूअर, मुर्गा, खरगोश, पक्षी और मछली शामिल हैं।

आरएसपीसीए, के अलावा अधिकांश पालतू बचाव संगठनों में, जानवरों को गोद लेने के लिए रखे जाने से पहले चिकित्सकीय और व्यवहारिक रूप से मूल्यांकन, टीकाकरण, माइक्रोचिप और डेसेक्स किया जाता है।

Foster care programs give temporary homes for animals before they go into adoption
Foster care programs give temporary homes for animals before they go into adoption
Getty Images/yara duvdevan

एक पालतू जानवर को क्यों अपनाएं?

जब आप पालतू जानवर ऑनलाइन या पालतू जानवरों की दुकान से खरीदते हैं, तो हो सकता है कि आप उनके दीर्घकालिक मुद्दों, उन्हें कैसे पाला गया या वे किन परिस्थितियों में रह रहे हैं, आदि के बारे में नहीं जानते।

कीरन का कहना है, "यह बताना वाकई मुश्किल है कि क्या आपको कोई ऐसा जानवर मिल रहा है जो अच्छे स्वास्थ्य में है और उसका इलाज सही है।"

उन्होंने कहा, "हमने तथाकथित पिल्ले फार्म देखे हैं जहां लोग लाभ के लिए प्रजनन कर रहे हैं, जो दुखद है।"

जब आप आरएसपीसीए, RSPCA या किसी अन्य बचाव आश्रय से गोद लेते हैं, तो आप एक पालतू जानवर को दूसरा मौका दे रहे होते हैं, जो एक बहुत अच्छा एहसास होता है।

आरएसपीसीए, के माध्यम से एक पालतू जानवर को अपनाने के लिए, आप या तो उनकी वेबसाइट पर या सीधे उनके किसी आश्रय में जा सकते हैं।

गोद लेने की प्रक्रिया के दौरान एक स्टाफ सदस्य सबसे पहले आपसे जानवर के बारे में बात करेगा और सुनिश्चित करेगा कि यह आपके परिवार और जीवन शैली के लिए सबसे अच्छा मेल है।

इसके अलावा यह जानना भी आवश्यक है कि आप अपने स्थानीय परिषद से उन जानवरों के बारे में जाँच करें जिन्हें आपके अपने क्षेत्र में रखने की अनुमति है।

Adopting Pets
Animals in the shelter are looking for routine and stability
Getty Images/Capuski

फॉस्टर केयर

कीरन का कहना है, ”जब आप एक पालतू जानवर को गोद लेते हैं, तो यह उस जानवर के प्रति आपकी जीवन भर के लिए एक प्रतिबद्धता है।”

यह सवाल आपको खुद से पूछना चाहिए कि क्या यह आपके जीवन में फिट हो सकता है, कहीं यह पांच या बीस साल तक आप के लिये मुशपटरी से उतर जाएगा? , क्योंकि कुछ पालतू जानवर लंबा जीवन जी सकते हैं।

देश भर में कई पालक देखभाल कार्यक्रम हैं, जिससे खोए और आवारा जानवरों को अस्थायी घर दिया जाता है, या जिन्हें चिकित्सा की जरूरत है, जो नवजात हैं, या जो बस एक आश्रय वातावरण में नहीं रह सकते हैं।

Adopting Pets
Giving animals a second chance is a rewarding experience
Getty Images/Group4 Studio

मार्च PETstock Assist’s National Pet Adoption Month, महीना है, जिसका उद्देश्य पालतू गोद लेने और पालक देखभाल प्लेसमेंट के बारे में शिक्षित और जागरूकता बढ़ाना है।

यदि पालतू स्वामित्व की दीर्घकालिक जिम्मेदारी और वित्तीय प्रतिबद्धता मुश्किल है, फिर भी आप पालतू साथी की तलाश में हैं, तो पालक देखभाल एक अच्छा विकल्प हो सकता है।


ऊपर तस्वीर में दिए ऑडियो आइकन पर क्लिक कर के हिन्दी में पॉडकास्ट सुनें।

हर दिन शाम 5 बजे एसबीएस हिंदी का कार्यक्रम सुनें और हमें  Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

 

 

 


 

Coming up next

# TITLE RELEASED TIME MORE
ऑस्ट्रेलिया में पालतू जानवरों को गोद लेना और उनका पालन-पोषण करना 24/03/2022 07:26 ...
इस साल ऑस्ट्रेलिया में 1 जुलाई से टैक्स में क्या बदलाव होने वालें हैं? 01/07/2022 07:31 ...
तुमको न भूल पाएंगे:राजेंद्र कृष्ण 01/07/2022 07:18 ...
एसबीएस बॉलीवुड टाइम: 30 जून 2022 30/06/2022 09:16 ...
लखनऊ का चिड़ियाघर बना भारत का सबसे पहला ब्लाइंड फ्रेंडली ज़ू 29/06/2022 08:14 ...
तुमको न भूल पाएंगे: श्यामा 24/06/2022 06:52 ...
एसबीएस बॉलीवुड टाइम: 23 जून 2022 23/06/2022 08:49 ...
मिलिए रामदास से जो गुजरात में बीमार जूतों का अस्पताल चला रहें है 21/06/2022 05:24 ...
तुमको न भूल पाएंगे: नसीम बानो 20/06/2022 07:00 ...
एसबीएस बॉलीवुड टाइम: 17 जून 2022 17/06/2022 09:00 ...
View More