Coming Up Fri 5:00 PM  AEDT
Coming Up Live in 
Live
Hindi radio
SBS हिंदी

वह गीतकार जिसने ताजमहल को प्यार नहीं शोषण की भी निशानी माना

Sahir Ludhianvi (1921-1980) was a Urdu poet and Hindi lyricist. Source: Vipin Kumar/Hindustan Times via Getty Images

हिन्दी फिल्मों के गीतकार साहिर लुधियानवी का जन्म 8 मार्च 1921 को पंजाब के लुधियाना शहर में हुआ था। साहिर के लिखे हुए गीतों और गज़लों को आज भी लोग चाव से सुनते हैं। 'ये देश है वीर जवानों का', 'मैं पल दो पल का शायर हूँ', 'ए मेरी जहोरां जबी' जैसे गानों से उन्होंने हिन्दी फिल्मों में नई ऊँचाइयों को छुआ। साहिर ने 25 अक्टूबर 1980 को दुनिया को अलविदा कहा। उनकी 41वी पुण्यतिथि पर सुनते है यह खास अंश।

ऊपर तस्वीर में दिए ऑडियो आइकन पर क्लिक कर के हिंदी में पॉडकास्ट सुनें।

हर दिन शाम 5 बजे एसबीएस हिंदी का कार्यक्रम सुनें और हमें  Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

 

Coming up next

# TITLE RELEASED TIME MORE
वह गीतकार जिसने ताजमहल को प्यार नहीं शोषण की भी निशानी माना 26/10/2021 12:53 ...
तुमको न भूल पाएंगे: सोहराब मोदी 20/01/2022 06:05 ...
अलविदा कथक सम्राट पंडित बिरजू महाराज 18/01/2022 08:08 ...
भारत के समाचार हिन्दी में 17/01/2022 10:09 ...
एसबीएस बॉलीवुड टाइम: 07 जनवरी 2022 14/01/2022 09:07 ...
तुमको न भूल पाएंगे: देविका रानी 14/01/2022 06:38 ...
त्योहारों का देश भारत: लोहरी, मकर संक्रांति, पोंगल 13/01/2022 16:25 ...
कुछ हफ़्तों में यूरोप की आधी से ज्यादा आबादी आ सकती है ओमीक्रॉन की चपेट में 12/01/2022 08:49 ...
ऑस्ट्रेलिया सहित पूरे यूरोप में गहराया कोविड संकट 11/01/2022 07:31 ...
विक्टोरिया में शुरू हुआ बच्चों के लिए टीकाकरण 10/01/2022 06:50 ...
View More