Coming Up Thu 5:00 PM  AEDT
Coming Up Live in 
Live
Hindi radio

मिलिए 24 साल के एहराज सेः कॉलेज छोड़ा, गूगल से की पढ़ाई और बन गए जाना-माना नाम

Source: Supplied by Ehraz Amhed

आज आपको मिलवाते हैं मैसूरु के रहने वाले 24 वर्षीय एहराज अहमद से। अहमद एक एथिकल हैकर हैं।

आजकल पर्सनल डाटा की सिक्योरिटी एक बहुत ही संवेदनशील मुद्दा बन चुकी है। अक्सर हम लोग ध्यान नहीं देते हैं लेकिन हमारे मोबाइल फोन पर अनचाही कॉल्स आती हैं। 


मुख्य बातेंः

  • एहराज अहमद एक एथिकल हैकर हैं और डेटा सिक्यॉरिटी की दुनिया में जाना माना नाम हैं।
  • अहमद ने औपचारिक डिग्री भी पूरी नहीं की और जो सीखा इंटरनेट से खुद ही सीखा।
  • 16 साल की उम्र में अहमद को हॉल ऑफ फेम में जगह मिली थी।

ये कॉल किसी वस्तु के प्रमोशन से सम्बंधित हो सकती हैं या धोखाधड़ी करने वालों की भी। बहुत कम हम लोग ध्यान देते हैं कि हमारा मोबाइल नंबर कहां-कहां पहुंच चुका है। ये भी नहीं सोचते कि कैसे हमारा मोबाइल नंबर सार्वजनिक हो गया।

File photo dated 06/08/13 of a person using a laptop. Football fans have been urged to strengthen their cyber security settings as millions prepare to log-in to subscription services to watch the return of the Premier League.. Issue date: Wednesday June 1
Dominic Lipinski/PA Wire

आज आपको मिलवाते हैं मैसूरु के रहने वाले 24  वर्षीय एहराज अहमद से। अहमद एक एथिकल हैकर हैं। इस प्रकार की हैकिंग का मतलब है कि किसी सिस्टम या नेटवर्क की कमजोरी को पहचानना और उसे ठीक करने में मदद करना। यह एक सेफ हैकिंग प्रोसेस है।

सुनिए, 16 साल की उम्र में हॉल ऑफ फेम में शामिल होने वाली अहमद की कहानी, उन्हीं की जबानीः

 

मिलिए 24 साल के एहराज सेः कॉलेज छोड़ा, गूगल से की पढ़ाई और बन गए जाना-माना नाम
00:00 00:00

अहमद ने अब तक 700 मिलियन उपभोक्ताओं के पर्सनल डाटा को हैक होने से बचाया है। उन्होंने कई कंपनियों जैसे एयरटेल, ट्रूकॉलर, जस्ट डायल और यहां तक कि फेसबुक के ऐप में ऐसी सिक्योरिटी चूक ढूंढ़ी जिससे उपभोक्ताओं का पर्सनल डाटा कोई भी चुरा कर दुरुपयोग कर सकता था। उन्होंने इन कंपनियों को इसके बारे में सूचित किया और इस कमी को दूर कर लिया गया।



अहमद औपचारिक तौर पर कोई बहुत ज़्यादा पढ़े-लिखे नहीं हैं। इंजीनियरिंग के फर्स्ट ईयर में ही उन्होंने कॉलेज छोड़ दिया था। डाटा सिक्योरिटी के क्षेत्र में कोई पारम्परिक ट्रेनिंग भी नहीं ली है। जो भी सीखा बस गूगल और इंटरनेट के ज़रिये अपने आप सीखा है। लेकिन आज वह इतने एक्सपर्ट हो गए हैं कि अपनी कंपनी एस्पेरहाईव चलाते हैं और डाटा सिक्योरिटी के क्षेत्र में जाना-माना नाम हैं।

Tune into SBS Hindi at 5 pm every day and follow us on Facebook and Twitter 

Coming up next

# TITLE RELEASED TIME MORE
मिलिए 24 साल के एहराज सेः कॉलेज छोड़ा, गूगल से की पढ़ाई और बन गए जाना-माना नाम 09/12/2020 08:00 ...
An athlete and philanthropist leading change for people with disability 26/01/2022 07:20 ...
India report: India celebrates 73rd Republic Day amid the ongoing COVID-19 wave 26/01/2022 07:11 ...
Health measures announced for safely returning to school during COVID-19 26/01/2022 07:30 ...
‘It is an honour for the community’ says Order of Australia Medal recipient 26/01/2022 10:48 ...
SBS Hindi News 25 January 2022: COVID-19 outbreak on board Australian Navy ship delivering aid to Tonga 25/01/2022 09:36 ...
Australia Day ambassadors urge Indian community to celebrate achievements, embrace togetherness 25/01/2022 08:26 ...
बेंगलुरु में दिव्यांगजन चला रहे हैं 'मिट्टी कैफे' नामक रेस्टोरेंट चेन 25/01/2022 10:25 ...
Concession card holders are eligible for free RAT tests 25/01/2022 08:00 ...
‘Combat stereotypes with stories’: Melbourne lawyer giving voice to Aboriginal communities 25/01/2022 23:18 ...
View More